रक्त दान महा दान

यदि आप को किसी भी समय किसी रक्तदान करने के इच्छुक लोगो की आवश्यकता है तो निम्न मो नम्बरों से संपर्क करे आपकी हर संभव मदद की जायेगी /यदि आप रक्त दान के इच्छुक है तब भी इस ब्लॉग के टिप्पणी में जा कर आपना मो न व् नाम छोड़े तांकि आवश्यक पड़ने पर आपसे संपर्क किया जा सके व् आपका नाम रक्त दान को तत्पर लोगों में लिखा जा सके
रक्त दान को तत्पर :-
हरप्रीत सिंह ...........09793869893शाहजहांपुर( उ प्र ) रमेश चन्द्र ...........09450421396शाहजहांपुर( उ प्र )


मलकीत सिंह ..........09918826316शाहजहांपुर( उ प्र ) राजेंद्र मीना(sbi ) ............ 09265031315 पटियाला पंजाब



लिखिए अपनी भाषा में

गुरुवार, 17 नवंबर 2011

अमिताभ बच्चन जी दादा बन गए -बेटियां


बहुत  अच्छा लगा जब पता लगा की सदी के महा नायक अमिताभ बच्चन जी दादा बन गए लेकिन उससे भी अच्छी बात ये थी कि उनकी बहू ने एक प्यारी सी परी सी बेटी को जन्म दिया क्योंकि जिस तरह हमारे समाज में कन्या भ्रूण   हत्या की कुरीति एक अमर बेल की तरह बढ़ रही है और लिंग अनुपात बिगड़ता जा रहा है  ये एक शुभ संकेत है की एक ऐसा परिवार जिसे आदर्श परिवार की तरह देखा जा सकता है  बेटियां यूँ तो रोज़ कंही न कहीं किसी न किसी घर में पैदा होती ही है भले ही बेटों की अपेक्षा कम ही सहीं पर होती तो है  मगर बहुत कम घर ऐसे हैं जहाँ बेटी के जन्म के बाद माहौल खुश नुमा रहता है नहीं तो ज्यादातर घरों में बेटी को बिन बुलाये महमान की तरह ही देखा जाता है बहुत से "साधन संपन घरों में तो चिकित्सकीय सुविधाओ का उपयोग (दुर उपयोग ) कर के इन्हें आने ही नहीं दिया जाता ऐसे में कहा  जा सकता है की भारत वर्ष केसबसे साधन संपन्न परिवार में बेटी का जन्म लेना रुढ़िवादी लोगों के लिए एक नजीर है और सन्देश भी की बेटियां बोझ हैं तो सिर्फ उन लोगों के लिए जो उन्हें बोझ समझ कर ही जन्म देते है और सारीउम्र  अपनी इसी मानसिकता  में अपनी रुढ़िवादी सोच का बोझ उनके ऊपर लाद देते ,जबकि बेटियां  को ख़ुशी का रूप हैं चांहे माँ के रूप में ,बहू ,पत्नी या बहन के रूप में बोझ है तो सिर्फ लोगों की अपनी सोच जो दिन ब दिन  गिरती जा रही है
उम्मीद है  अपने महानायक आदर्श ,द्वारा दिए गए इस शुभ सन्देश को हम सब समझेगे व् उनकी ख़ुशी में शामिल भी होंगे और अपने घर में भी ऐसी "खुशिया" आने दे गे उन्हें रोकेगे नहीं   ,सोचिये क्या इस महा नायक के पास इन्हें रोकने के साधन नहीं थे ?


बहुत  अच्छा लगा जब पता लगा की सदी के महा नायक अमिताभ बच्चन जी दादा बन गए लेकिन उससे भी अच्छी बात ये थी कि उनकी बहू ने एक प्यारी सी परी सी बेटी को जन्म दिया क्योंकि जिस तरह हमारे समाज में कन्या भ्रूण   हत्या की कुरीति एक अमर बेल की तरह बढ़ रही है और लिंग अनुपात बिगड़ता जा रहा है  ये एक शुभ संकेत है यह एक ऐसा परिवार  है जिसे आदर्श परिवार की तरह देखा जा सकता हैऔर जिसका देश के लोग अनुसरण करते है यां करने की कोशिश  करते हैं   बेटियां यूँ तो रोज़ कंही न कहीं किसी न किसी घर में पैदा होती ही है भले ही बेटों की अपेक्षा कम ही सहीं पर होती तो है  मगर बहुत कम घर ऐसे हैं जहाँ बेटी के जन्म के बाद माहौल खुश नुमा रहता है नहीं तो ज्यादातर घरों में बेटी को बिन बुलाये महमान की तरह ही देखा जाता है बहुत से "साधन संपन घरों में तो चिकित्सकीय सुविधाओ का उपयोग (दुर उपयोग ) कर के इन्हें आने ही नहीं दिया जाता ऐसे में कहा  जा सकता है की भारत वर्ष केसबसे साधन संपन्न परिवार में बेटी का जन्म लेना रुढ़िवादी लोगों के लिए एक नजीर है और सन्देश भी की बेटियां बोझ हैं तो सिर्फ उन लोगों के लिए जो उन्हें बोझ समझ कर ही जन्म देते है और सारीउम्र  अपनी इसी मानसिकता  में अपनी रुढ़िवादी सोच का बोझ उनके ऊपर लाद देते ,जबकि बेटियां  को ख़ुशी का रूप हैं चांहे माँ के रूप में ,बहू ,पत्नी या बहन के रूप में बोझ है तो सिर्फ लोगों की अपनी सोच जो दिन ब दिन  गिरती जा रही है
उम्मीद है  अपने महानायक आदर्श ,द्वारा दिए गए इस शुभ सन्देश को हम सब समझेगे व् उनकी ख़ुशी में शामिल भी होंगे और अपने घर में भी ऐसी "खुशिया" आने दे गे उन्हें रोकेगे नहीं   ,सोचिये क्या इस महा नायक के पास इन्हें रोकने के साधन नहीं थे ?

4 टिप्‍पणियां:

  1. आपके पोस्ट पर आना सार्थक सिद्ध हुआ । धन्यवाद ।

    उत्तर देंहटाएं
  2. Tv100 news appreciate your efforts!
    आपने बहुत अच्छा लिखा है ! बधाई! आपको शुभकामनाएं !
    आपका हमारे ब्लॉग http://tv100news4u.blogspot.com/ पर हार्दिक स्वागत है!

    उत्तर देंहटाएं
  3. मलकीत भाई बहुत सुन्दर विचार रखे आप ने ....अमित जी और उनका परिवार जिसके पास सब संसाधन थे चाहे कुछ भी कर सकता था लेकिन हमें उनके बेटी पोती का स्वागत करने से सीख लेनी चाहिए ...
    अमित जी सपरिवार को बधाई और बेटी ऐश सा नाम कमाए शुभ कामनाएं
    भ्रमर ५

    उत्तर देंहटाएं
  4. मुबारक उनको बधाई आपको इस बेहतरीन पोस्ट के लिए।

    उत्तर देंहटाएं